अम्बाह मुरैना

सेना में 21 वर्ष सेवा देकर सेना से रिटायरमेंट होकर गांव पहुंचे जवान का नागरिक अभिनंदन कर भव्य स्वागत किया


ग्रामीणों ने भारत माता के जय घोष से वातावरण को देशभक्ति पूर्ण बना दिया।
अम्बाह। भीमसेन सिंह तोमर ‌ अंचल के सुनावली गांव के सुनील सिंह तोमर जो कि सेना में थे।उन्होंने भारतीय सेना में शामिल होकर 21 साल तक भारतीय सेना में अपनी सेवा दी।शुक्रवार को सेना से रिटायरमेंट होने पर सुनील सिंह तोमर जब अपने पैतृक गांव सुनावली वापस आए तो गांव की सीमा पर परिवार एवं गांव वालों ने उनका भव्य स्वागत किया। ज्ञात रहे कि मोहर सिंह तोमर के दोनों पुत्र सेना में शामिल होकर अपनी सेवाएं दे रहे थे। भारतीय सेना की उच्च कोटि की परंपरा का निर्वाहन करते हुय देश की खातिर 13 फरवरी 2016 को शहीद हो गए थे।उनके छोटे पुत्र सुनील सिंह तोमर भी सेना में थे जो कि कल शुक्रवार को सेना से रिटायरमेंट होकर अपने घर पहुंचे। आपको ध्यान रहे कि सेना में शामिल सुनील सिंह तोमर ने भारतीय सेना की उच्च कोटि और गौरवपूर्ण परम्परा के अनुसार पम्पोर में सर्च ऑपरेशन में अपने वीरता व साहस का परिचय देते हुय वहाँ की सबसे बड़ी बिल्डिंग में छिपे बैठे आतंकवादी को पकड़ने में सर्च ऑपरेशन में अपना योगदान दिया और सियाचिन ग्लेशियर में भी सर्च ऑपरेशन में अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। सेना से रिटायरमेंट होने पर उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन को देखते हुए सेना के अधिकारियों ने उन्हें मैडल, ट्रॉफी व प्रंशसा पत्र देकर सम्मानित किया गया।सेना में अपनी सेवा देने के उपरांत रिटायरमेंट होने पर तोमर ने अपने गांव आकर सर्वप्रथम शहीद स्मारक पर अपने बड़े भाई अमर शहीद हवलदार रामगोविंद सिंह तोमर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर नमन किया और आशीर्वाद लिया। सेना में अपनी उत्कृष्ट सेवा देकर गांव पधारने पर उपस्थित परिवार एवं गांव के लोगो ने उनका पुष्पमाला पहनाकर और भारत माता की जय बोल कर स्वागत किया। इस अवसर पर सेना में शामिल रहे सुनील सिंह तोमर ने कहा चम्बल अंचल वीरों की भूमि है यहाँ सेना में हजारों युवा भर्ती होकर बॉर्डर पर तैनात रहकर राष्ट्र की सेवा कर रहे है।उनमें से एक मे भी हूँ। सौभाग्यशाली हूँ कि मुझे सेना में 21 वर्ष का समय राष्ट्र की सेवा करने का अवसर मिला। इसके साथ ही अपनी सेवा के समय में उन्होंने अपनी सेवाएं देते हुय दुश्मनों को मुंहतोड़ जबाब दिया।उन्होंने गांव के युवा से अपील करते हुय कहा राष्ट्र सेवा करने के लिये सेना में शामिल हो। सेना की वर्दी का एक अलग पहचान और अलग जज्बा होता है। साथ ही ग्रामीण अंचल में युवाओं को नशा न करने अपील करेंगे ।सेना में शामिल होने के लिये उन्हें प्रोत्साहित करेंगे। इस अवसर पर सोबरन सिंह ने स्मृति चिन्ह व साफा पहनाकर स्वागत किया। स्वागत करने वालो में अजय सिंह ,अमन तोमर,अमनदीप, लोकेंद्र सिंह, अमर सिंह , गजराज सिंह,विजय सिंह ,अभिषेक आदि मौजूद रहे।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com