मुरैना

जो बैंक शासन की योजनाओं में ऋण वितरण नहीं देगीं, उन बैंको से खाताधारकों के खाते अन्य बैंको में स्थानान्तरण करायें – कलेक्टर 

 

कल्याणकारी योजनाओं में 15 मार्च तक लक्ष्य पूर्ण करने के लिये बैंकर्स सहयोग दें 

मुरैना 10 फरवरी 2022/ प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं का लक्ष्य 15 मार्च तक पूर्ण करने में बैंकर्स सहयोग प्रदान करें। जो बैंक लक्ष्य पूर्ण नहीं करेंगी, या शासन की योजनाओं को गंभीरता से नहीं लेंगी, उन बैंको से खाताधारकों के खाते स्थानान्तरण कर उन बैंको में शिफ्ट कराये जायेंगे, जो बैंक योजनाओं के लक्ष्य को पूर्ण करेंगे। यह निर्देश कलेक्टर श्री बी.कार्तिकेयन ने बुधवार को नवीन कलेक्ट्रेट सभागार में डीएलसीसी की बैठक में दिये। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रोशन कुमार सिंह, नगर निगम कमिश्नर श्री संजीव कुमार जैन, एलडीएम श्री एनके मंगल, जीएमडीआईसी, पीओ डूडा, पशुपालन, मछली पालन, कृषि, उद्यानिकी सहित अन्य विभागों के अधिकारी एवं समस्त बैंको के प्रतिनिधि मौजूद थे।

कलेक्टर श्री बी.कार्तिकेयन ने निर्देश दिये है कि बैंकर्स अपने-अपने अधीनस्थ बैंको को निर्देशित करें कि वे ग्रामीण क्षेत्रों में कैम्प लगाये, कैम्प में खाना पूर्ति नहीं हो, जिस तारीख को कैम्प लगाया जाये, उससे पहले हितग्राहियों को मिलने वाले लाभ की एक्सरसाइज करा ली जाये। ऐसा नहीं हो कि कैम्प के दिन नाम मात्र के लिये फार्म भरा लिया गया, संख्या दिखा दी जाये, किंतु हितग्राहियों को योजनाओं का लाभ नहीं मिले। उन्होंने कहा कि इसके लिये संबंधित विभाग के अधिकारियों को पूर्व में ही सूचना दे दी जाये, इससे सभी व्यवस्थायें एवं हितग्राहियों का चयन कर लिया जाये। इसके लिये बैंकर्स संबंधित जनपद सीईओ को भी सूचित करें।

कलेक्टर ने कहा कि विभिन्न योजनाओं में जो आवेदन स्वीकृत होने के पश्चात् बैंको में लंबित है, उनका डिस्पर्स नहीं हुआ है, बैंकर्स यह जरूर ध्यान दें कि छोटी-मोटी त्रुटि के कारण उन आवेदनों को बैंकर्स निरस्त न करें। अगर वे आवेदन अंतिम समय में निरस्त किये गये तो प्रदेश सरकार का लक्ष्य 15 मार्च तक पूर्ण किया जाना संभव नहीं होगा। उन्होंने कहा कि हर सप्ताह बैंकर्स प्रकरणों की जानकारी उपलब्ध कराये, इस कार्य में लापरवाही की गई तो संबंधित बैंको के आरएमओ को उस बैंक की लापरवाही के लिये सूचित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जो बैंक रिस्पॉस नहीं देंगी, उन बैको से हितग्राहियों के खाते हटाकर उन बैंको में स्थानान्तरण किये जायेंगे, जो प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं में क्षमता से अधिक ऋण वितरित करायेंगी, उन्हें आगे और प्रोसाहित किया जायेगा। कलेक्टर ने कहा कि स्व-सहायता समूहों को केस क्रेडिट लिंकेज, सीसीएल की प्रगति, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना, प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना, पशुपालन डेयरी एवं मत्स्य पालन केसीसी, पीएमईजीपी, सीएम हेल्पलाइन पर विस्तार से बैंको को समझाईश दी।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com