ग्वालियर दतिया भिण्ड मुरैना

ARMY NEWS : अग्निवीर उम्मीदवारों के लिए सेना भर्ती कार्यालय ग्वालियर द्वारा सलाह 

प्रमोद भदौरिया – भिण्ड मध्यप्रदेश

भिण्ड सेना भर्ती कार्यालय ग्वालियर द्वारा अग्निवीर उम्मीदवारों को सलाह दी गई है सेना भर्ती कार्यालय ग्वालियर द्वारा सलाह में कहा कि कृपया अपने कम्प्यूटरीकृत प्रवेश पत्र पर ’उल्लिखित तिथियों’ पर ही रैली के लिए आएं। अपने ’प्रवेश पत्र की अच्छी प्रिंट कॉपी’ साथ रखें। एडमिट कार्ड को बारकोड लाइन से न मोड़ें। इसे बारिश और पानी से बचाने के लिए प्लास्टिक कवर में रखें। ’कंप्यूटर क्षतिग्रस्त प्रवेश पत्र को नहीं पढ़ सकता है जिससे आप रैली के लिए अपात्र हो सकते हैं।’ उपस्थिति के लिए रैली मैदान में ’अपनी रैली की तारीख,से पहले रात को 10 बजे तक रिपोर्ट करें।’ ’अपने सभी दस्तावेजों को मूल रूप में ले जाए।’ जैसे कि 8वीं/10वीं/12वीं/ आईटीआई प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, स्थानिया निवासी, जाति प्रमाण पत्र, शपथ पत्र, एनसीसी और खेल प्रमाण पत्र। कम से कम 10 नवीनतम ’पासपोर्ट साइज फोटो’ ले जाएं। ’कोई भी दवाई, एनर्जी ड्रिंक या ड्रग न ले जाएं’। प्रवेश द्वार पर आपके सामान की जांच की जाएगी और सभी निषिद्ध वस्तुओं को बाहर निकाला जाएगा। कानून-व्यवस्था न तोड़ें। पुलिस पूरे इलाके को ’ड्रोन और सीसीटीवी कैमरों के जरिए निगरानी’ में रख रही है। ’चूककर्ताओं के खिलाफ एफआईआर की जाएगी जो भविष्य में भी उन्हें किसी भी सरकारी नौकरी से वंचित कर देगी।
उन्होंने कहा कि ’वापसी यात्रा के लिए सशुल्क बसें रैली स्थल पर उपलब्ध कराई जाएंगी।’ यदि आप प्रारंभिक परीक्षण में विफल हो जाते हैं, तो तुरंत बसों में चढ़ें। यात्रा के दौरान न कोई कानून तोड़ें और न ही रेल या बस यात्रियों को परेशान करें । वे आपके साथी नागरिक हैं और ट्रेनध्बस राज्य की संपत्ति है। ’सेना को उम्मीद है कि उसके उम्मीदवार एक जिम्मेदार और अनुशासित नागरिक होंगे’
10. जन्मतिथि बदलने के लिए किसी का रूप धारण करने या नकली 10 वीं और आधार प्रमाण पत्र ले जाने का प्रयास न करें। ’सेना प्रणाली आधार और राज्य शिक्षा बोर्ड डेटाबैंक से जुड़ी हुई है’। फर्जी दस्तावेज/उम्मीदवार पकड़े जाएंगे और उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। भारतीय सेना में भर्ती एक निशुल्क और पारदर्शी प्रक्रिया है। यह प्रणाली पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत है और इसमें किसी के द्वारा भी हेराफेरी की कोई संभावना नहीं है, यहां तक कि सेना के अधिकारी द्वारा भी। ’उन दलालों से सावधान रहें जो अपने झूठे वादों के साथ आपसे रिश्वत के लिए संपर्क कर सकते हैं।’ कुछ ऐसे उदाहरण सामने आए हैं जिनमें दलालों ने सैन्य अस्पतालों में अस्थायी चिकित्सा अस्वीकृत उम्मीदवारों से संपर्क किया और चिकित्सा मे फिट करने के झूठे आश्वासन पर रिश्वत ली। ’यदि कोई दलाल आपसे संपर्क करता है, तो कृपया निकटतम सेना कार्यालय या पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करें।’ भारतीय सेना अनुशासन, ईमानदारी और अखंडता के लिए जानी जाती है। हम अपने सैनिकों के इन बुनियादी गुणों से किसी प्रकार का समझौता नहीं करेंगे।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com