देश

हार के बाद भाजपा में आरोपों की झड़ी जाने किसने किसपे लगाए आरोप

MP Election 2018: शिवराज सिंह पर आरोप लगाए गए कि उन्होंने ग्वालियर-चंबल में मनमर्जी से टिकट बांटे, जिसकी वजह से हारे।

ग्वालियर। 15 साल तक सत्ता में रहने के बाद भाजपा नेता हार का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं। कोई आभार सभा के बहाने तो कोई सीधे ही इस हार का ठीकरा दूसरों पर फोड़ रहा है। रविवार रात 7.22 बजे पूर्व साडा अध्यक्ष जय सिंह कुशवाह ने एक बयान जारी कर विधानसभा चुनावों में हार के लिए सीधे-सीधे मुख्यमंत्री, एट्रोसिटी एक्ट और ‘माई के लाल वाले’ बयान को जिम्मेदार ठहरा दिया।

इसके पौन घंटे बाद ही मुरैना सांसद व भितरवार से भाजपा प्रत्याशी रहे अनूप मिश्रा ने मीडिया से चर्चा में हार के लिए प्रदेश के मंत्रियों व जिलाध्यक्षों को जिम्मेदार ठहरा दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जिम्मेदारी संभालने वाले मंत्री अपनी विधानसभा सीट तक नहीं बचा पाए।
गलत निर्णय और बयानबाजी से गंवाई सत्ता’

पूर्व साडा अध्यक्ष और विधानसभा चुनावों से पहले निकली मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा के संभागीय प्रभारी रहे जय सिंह कुशवाह ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री को निशाने पर लिया। कहा कि हार के सबसे बड़े जिम्मेदार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हैं। सरकार ने पहले प्रमोशन में आरक्षण के विरोध में तैयार हो रही सपाक्स की पृष्ठभूमि को नकारा। एट्रोसिटी एक्ट को लागू कर सवर्ण समाज को नाराज किया। रही सही कसर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ‘माई के लाल’ के बयान ने पूरी कर दी।
टिकट वितरण में सीएम ने की मनमानी’

सामान्य वर्ग की नाराजगी दूर करने के स्थान पर मुख्यमंत्री ने टिकट वितरण में मनमानी की। ग्वालियर-चंबल में जितने भी टिकट सीएम ने मनमर्जी से दिए,उनमें से 90 प्रतिशत प्रत्याशी हार गए।
50 प्रतिशत टिकट काटने थे’

जय सिंह ने कहा कि 50 प्रतिशत विधायकों के टिकट काटे जाने चाहिए थे, पर ऐसा नहीं किया। प्रदेश के वरिष्ठ नेतृत्व की गलत नीतियों और नफरतभरी बयानबाजी ने भाजपा को सत्ता से दूर कर दिया। सरकार की नीतियां और योजनाएं बेहतर थीं। लाखों लोगों ने इसका लाभ भी उठाया,पर कुछ नेताओं के प्रति पनप रहे आक्रोश को नेतृत्व भांप गया। विदित है कि जय सिंह कुशवाह ने दो साल पहले रीवा में सवर्ण समाज की वकालत कर प्रदेश भाजपा में हलचल मचा दी थी।
मैं तो चाहता हूं, नेतृत्व बात करे: जयसिंह कुश्वाह

बयान को लेकर जब जय सिंह से नईदुनिया ने चर्चा की तो उन्होंने कहा कि मैं 45 सालों से पार्टी की सेवा कर रहा हूं। मैं तो चाहता हूं कि कोई जिम्मेदार हार पर मुझसे चर्चा करे।
हार के लिए मंत्री और संभाग के जिलाध्यक्ष जिम्मेदार

विधानसभा चुनावों में हार न प्रधानमंत्री के कारण हुई है न ही मुख्यमंत्री के कारण। हार हुई है तो उन मंत्रियों के कारण जो प्रदेश के मंत्री बने थे, लेकिन जिले के भी मंत्री न बन सके। और तो और अपनी विधानसभा में भी मंत्री न रह पाए।

मंत्रियों पर यह खुला आरोप मुरैना सांसद व अभी हाल ही में भितरवार(ग्वालियर) विधानसभा सीट से चुनाव हारे अनूप मिश्रा ने लगाया है। मीडिया से चर्चा में उन्होंने कहा कि ये चुनाव अगर हारे हैं तो ग्वालियर-चंबल अंचल के जिलाध्यक्षों के कारण भी हारे हैं। उनकी कार्यशैली की वजह से पार्टी की हार हुई है। उन्होंने कहा कि, जहां एक ओर प्रदेशाध्यक्ष इस हार पर अपने इस्तीफे की पेशकश कर रहे हैं तो दूसरी ओर जिलाध्यक्ष दिखावे को ही सही, इस हार पर जिम्मेदारी लेकर इस्तीफा नहीं दे रहे हैं।

प्रत्याशी आत्म अवलोकन करें: अनूप मिश्रा

भितरवार विधानसभा सीट से अपनी हार को स्वीकार करते हुए अनूप मिश्रा ने कहा कि मैं चुनाव किसी भी कारण से हारा हूं, लेकिन मुझे 54 हजार मतदाताओं का विश्वास मिला है। मुझे उनका आभार जताना है।

तोमर का बचाव, पवैया पर निशाना

यह पूछे जाने पर कि जब ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलाध्यक्ष इस हार के लिए दोषी हैं तो क्या वह चुनाव संचालन समिति के संयोजक नरेन्द्र सिंह तोमर को भी दोषी मानते हैं? उन्होंने कहा कि प्रबंधन में कहीं कोई कमी नहीं रही। जिलाध्यक्षों ने क्रियान्वयन सही से नहीं किया। मंत्री पवैया द्वारा बड़े पद के नेताओं पर जिम्मेदारी से काम न करने का आरोप लगाए जाने पर उन्होंने कहा कि जयभान सिंह पवैया खुद कद्दावर नेता हैं। वह सांसद रहे हैं। राम जन्मभूमि की जब-जब बात होती है, उनका नाम आता है। वह किसे कद्दावर मान रहे हैं, मैं नहीं कह सकता।

लोकसभा की तैयारी पर मौन

इस बार लोकसभा चुनाव में ग्वालियर से चुनाव लड़ने की संभावना पर उन्होंने कहा कि मैं पार्टी का अनुशासित सिपाही हूं। जो आदेश पार्टी देगी,उसका पालन करूंगा। बार-बार क्षेत्र बदलने पर उन्होंने कहा कि मैं इस बार भितरवार में वायदा करके आया हूं कि हर सुख-दुख में उनके साथ खड़ा मिलूंगा।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com