देश

एम.आर. अभियान के तहत आशा सहयोगिनी व आशा कार्यकर्ता उन्मुखीकरण आयोजित

एम.आर. अभियान के तहत आशा सहयोगिनी व आशा कार्यकर्ता उन्मुखीकरण आयोजित

एम.आर. अभियान के तहत आशा सहयोगिनी व आशा कार्यकर्ता उन्मुखीकरण आयोजित

अभियान के उद्देश्य पूर्ति हेतु समन्वय के साथ कार्य करें – डॉ. प्रदीप उपाध्याय

दतिया। दतिया जिले को मीजल्स व रूबेला मुक्त बनाने हेतु जिले में केन्द्र सरकार की मंशानुरूप 2020 तक मीजल्स व रूबेला बीमारी के निर्मूलन करने के लिए अभियान की तैयारी पूर्ण करली गयी। सभागार कार्यालय, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी में आशा सहयोगिनी व आशा कार्यकर्ता उन्मुखीकरण आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से डॉ. प्रदीप उपाध्याय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने उपस्थित प्रतिभागियों को अभियान को सफल बनाने में अपनी भूमिका सुनिश्चित करने हेतु संकल्प दिलाया।

नोडल अधिकारी एम. आर. अभियान डॉ. डी. के. सोनी ने प्रदेश व्यापी आगामी अभियान का उद्देश्य बताते हुए 9 माह से 15 वर्ष तक के सभी बच्चों को मीजल्स रूबेला (एम. आर.) टीकाकरण कर उक्त बीमारियों के निर्मूलन का कार्य किया जावेगा। मध्यप्रदेश के अतिरिक्त एम आर अभियान देश के 21 राज्यों में संचालित किया जा चुका है जिसके सफल परिणाम सामने आए हैं, जिसमें लगभग 15 करोड़ बच्चों को लाभान्वित किया जा चुका है।

जिला एमजीसीए रामजीशरण राय संचालक स्वदेश ग्रामोत्थान समिति ने बताया कि मीजल्स रूबेला टीके की कीमत बाजार में 1500 रूपये है जबकि अभियान के तहत यह निःशुल्क है। एक माह तक संचालित होने वाले अभियान में समस्त पात्र हितग्राहियों बच्चों को टीकाकृत करने का लक्ष्य पूर्ण किया जावेगा। इसमें हम सब अपने दायित्व का निर्वहन पूरी निष्ठा से करें। अशोक शाक्य एमजीसीए ने भी अभियान संबंधी जानकारी दी।

डीपीएम सौरभ सक्सेना ने अभियान के तहत जिला स्तरीय कार्ययोजनानुसार 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को आंगनवाड़ी केंन्द्रों पर व कक्षा 1 से 10 तक के बच्चों को विद्यालयों में लाभान्वित किया जावेगा। डीसीएम नाजरा इब्राहिम ने बताया अभियान के अन्तर्गत जिले में संचालित निजी विद्यालयों व मदरसों में अध्ययनरत बच्चों को भी टीकाकरण कर लाभान्वित किया जावेगा।

उन्मखीकरण कार्यक्रम में बीएमओ डॉ. आर.के. पूर्वीया, बीपीएम रामसेवक रायकवार व बीसीएम कीर्ति चौहान ने अभियान में भरपूर सहयोग करने हेतु निर्देशित किया। जिला एमजीसीए एस. आर. चतुर्वेदी ने सभी से समन्वय से अपने अपने स्तर पर पूर्ण करने की अपील की।

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. डी. के. सोनी ने प्रस्तुतिकरण करते हुए अभियान के बारे में व्यापक जानकारी देते हुए 21 राज्यों में सफल प्रयोग में 15 करोड़ बच्चों को लाभान्वित करने की बात कही। जिले में 2 लाख 60 हजार के निर्धारित लक्ष्य की जानकारी दी।

डॉ. सोनी ने बताया कि यह टीका दो बीमारियों से बच्चों को बचाएगा मीजल्स व रूबेला। टीकाकरण से शिशु मृत्युदर में कमीं आने के साथ ही निमोनिया, दस्तरोग, जन्मजात विकृति को रोकने में सहायक होगा। अभियान में 4 सदस्यीय दल गठित कर कार्य किया जावेगा।

एम.आर. अभियान जिला टॉस्कफोर्स सदस्य रामजीशरण राय, जिला कार्यक्रम समन्वयक एनएचएम दतिया सौरभ सक्सेना, मनोज गुप्ता, आशीष खरे, मेडिकल ऑफिसर व उनाव ब्लॉक की आशा कार्यकर्ता व आशा सहयोगिनी उपस्थित रही। उक्त जानकारी नोडल ऑफिसर एम.आर. अभियान डॉ. डी. के. सोनी ने दी।

अभियान के उद्देश्य पूर्ति हेतु समन्वय के साथ कार्य करें – डॉ. प्रदीप उपाध्याय

दतिया। दतिया जिले को मीजल्स व रूबेला मुक्त बनाने हेतु जिले में केन्द्र सरकार की मंशानुरूप 2020 तक मीजल्स व रूबेला बीमारी के निर्मूलन करने के लिए अभियान की तैयारी पूर्ण करली गयी। सभागार कार्यालय, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी में आशा सहयोगिनी व आशा कार्यकर्ता उन्मुखीकरण आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से डॉ. प्रदीप उपाध्याय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने उपस्थित प्रतिभागियों को अभियान को सफल बनाने में अपनी भूमिका सुनिश्चित करने हेतु संकल्प दिलाया।

नोडल अधिकारी एम. आर. अभियान डॉ. डी. के. सोनी ने प्रदेश व्यापी आगामी अभियान का उद्देश्य बताते हुए 9 माह से 15 वर्ष तक के सभी बच्चों को मीजल्स रूबेला (एम. आर.) टीकाकरण कर उक्त बीमारियों के निर्मूलन का कार्य किया जावेगा। मध्यप्रदेश के अतिरिक्त एम आर अभियान देश के 21 राज्यों में संचालित किया जा चुका है जिसके सफल परिणाम सामने आए हैं, जिसमें लगभग 15 करोड़ बच्चों को लाभान्वित किया जा चुका है।

जिला एमजीसीए रामजीशरण राय संचालक स्वदेश ग्रामोत्थान समिति ने बताया कि मीजल्स रूबेला टीके की कीमत बाजार में 1500 रूपये है जबकि अभियान के तहत यह निःशुल्क है। एक माह तक संचालित होने वाले अभियान में समस्त पात्र हितग्राहियों बच्चों को टीकाकृत करने का लक्ष्य पूर्ण किया जावेगा। इसमें हम सब अपने दायित्व का निर्वहन पूरी निष्ठा से करें। अशोक शाक्य एमजीसीए ने भी अभियान संबंधी जानकारी दी।

डीपीएम सौरभ सक्सेना ने अभियान के तहत जिला स्तरीय कार्ययोजनानुसार 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को आंगनवाड़ी केंन्द्रों पर व कक्षा 1 से 10 तक के बच्चों को विद्यालयों में लाभान्वित किया जावेगा। डीसीएम नाजरा इब्राहिम ने बताया अभियान के अन्तर्गत जिले में संचालित निजी विद्यालयों व मदरसों में अध्ययनरत बच्चों को भी टीकाकरण कर लाभान्वित किया जावेगा।

उन्मखीकरण कार्यक्रम में बीएमओ डॉ. आर.के. पूर्वीया, बीपीएम रामसेवक रायकवार व बीसीएम कीर्ति चौहान ने अभियान में भरपूर सहयोग करने हेतु निर्देशित किया। जिला एमजीसीए एस. आर. चतुर्वेदी ने सभी से समन्वय से अपने अपने स्तर पर पूर्ण करने की अपील की।

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. डी. के. सोनी ने प्रस्तुतिकरण करते हुए अभियान के बारे में व्यापक जानकारी देते हुए 21 राज्यों में सफल प्रयोग में 15 करोड़ बच्चों को लाभान्वित करने की बात कही। जिले में 2 लाख 60 हजार के निर्धारित लक्ष्य की जानकारी दी।

डॉ. सोनी ने बताया कि यह टीका दो बीमारियों से बच्चों को बचाएगा मीजल्स व रूबेला। टीकाकरण से शिशु मृत्युदर में कमीं आने के साथ ही निमोनिया, दस्तरोग, जन्मजात विकृति को रोकने में सहायक होगा। अभियान में 4 सदस्यीय दल गठित कर कार्य किया जावेगा।

एम.आर. अभियान जिला टॉस्कफोर्स सदस्य रामजीशरण राय, जिला कार्यक्रम समन्वयक एनएचएम दतिया सौरभ सक्सेना, मनोज गुप्ता, आशीष खरे, मेडिकल ऑफिसर व उनाव ब्लॉक की आशा कार्यकर्ता व आशा सहयोगिनी उपस्थित रही। उक्त जानकारी नोडल ऑफिसर एम.आर. अभियान डॉ. डी. के. सोनी ने दी।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com