देश

संत कबीर नगर मेहदावल सी0 यच0 सी0पर तैनात डा0ओकार जैसवाल बिना कमीशन के नही देखते मरीज

संत कबीर नगर मेहदावल सी0 यच0 सी0पर तैनात डा0ओकार जैसवाल बिना कमीशन के नही देखते मरीज

राकेश द्विवेदी की रिपोर्ट

मेहदावल सी० यस० सी० पर तैनात डा०ओंकार जैसवाल पर आखिर क्यों है मेहरबान जिला स्वास्थ्य महकमा

संत कबीर नगर जिला स्वाथ्य सेवाओ मे रैकिग के मामले मे पचास प्रतिशत भी मानक नही पूरा कर पा रहा है स्वाथ्य महकमा संतकबीर नगर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी महराज के कर्म स्थलीय गोरखपुर से सटे मात्र दस कोस की दूरी पर बसा जिला संतकबीर नगर के स्वाथ्य महकमा मे हो रही है जमकर कमीशन खोरी यूपी सरकार के लाख प्रयासो के बावजूद भी कमीशन खोरी के चक्कर मे मेहदावल सी0 यच0 सी0 के डाक्टर ओमकार जैसवाल दूर दराज से आये हुए इलाज कराने मरीजो को पाबन्द करते है बाहर से दवा लाने को और अल्ट्रासाउंड, ब्लड जांच एक्स रे जैसे तमाम जाँच को जिसमे आये हुए मरीज को ब्लड टेस्ट तो करानी होती है और पर्चा लिखते है डाक्टर साहब अपने सेट किए हुए पैथोलॉजी लाईफ पैथोलाजी पर भेजते हैं । सूत्रों द्वारा पता किया गया तो पता चला की 50 प्रतिशत कमीशन बधा है। महोदय ओमकार जैसवाल मेहदावल सी0 यच0 सी0 पर तैनात है ऐसी हालत में अगर रक्षक ही भक्षक बन जाएंगे तो स्वास्थ्य व्यवस्था में कहां तक सुधार होगी । स्वाथ्य महकमा मेहदावल सुधरने का नाम ही नही ले रहा है ऐसी ही घटना मेहदावल सी0 यच0 सी0 पर आये दिन डेली देखने को मीलती है दूर दराज से आये हुए बीमार ब्यक्तियो को हजार रूपये चूना लगाने का काम कर रहे जैसवाल डाक्टर साहब डेली दस से बीस हजार कमीशन से कमाते है बाकी तनख्वाह अलग से है ।योगी सरकार जहाँ प्रदेश वासियो को अच्छी सुवाधाए मुहैया करानी चाहती है वही मेहदावल सी0 यच0 सी0 पर तैनात ओमकार जैसवाल जैसे कमीशन खोर डाक्टर सरकार के मनसूबो पर पानी फेरने का काम कर रहे है आखिर इन भ्रष्ट डाक्टरो के साथ कहीं जिला स्वास्थ महकमा का तो हाथ नही है। जो खुले आम बाहर की दवा ,लेने और जाँच करवाने पर मजबूर करते है और पर्चा डाक्टर लिखते है आखिर इन डाक्टरो पर क्यो नही हो रही है कार्यवाही,
ये डाक्टर साहब इनका कहना है की तनख्वाह से ज्यादा तो हम कमीशन से कमा लेते है और जिले के अधिकारी कभी भी यहाँ जाँच करने नही आते है जब की आप सब को बताना चाहते है की कुछ दिनो पहले की बात है अस्पताल गेट के बगल मे एक अल्ट्रासाउंड की मशीन और सेन्टर शील हो चुका है।ऐसा ही मामला सामने आया एक गरीब किसान का जिसके पास मात्र एक रूपये से ज्यादा कुछ नही था देने को डाक्टर साहब उस गरीब किसान फोरन बता दिए की ब्लड टेस्ट कराकर लाओ नही तो गंभीर बीमारी होने का चक्कर है वह गरीब किसान कर्ज लेकर ब्लड टेस्ट करवाने के लिए गया जहा डाक्टर साहब का फरमाईस था।की लाइफ पैथालॉजी से ही जांच करवा के ही लाना वही रिपोर्ट अच्छा देता है ।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com