देश

अवैध शराब पकड़ने गई पुलिस पार्टी पर हमला

बसई पुलिस पर हिस्ट्रीशीटर ने की फायरिंग : बसई के ग्राम ग्वावली की घटना, थाना प्रभारी सहित 8 पुलिस कर्मी घायल

बलराम पुरी में लगी गोली

दतिया। जिले में बेखोफ एवं निर्भय मंसूबे का मामला सामने आया है। जहाँ शराब माफियाओं ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर जानलेवा हमला किया, जिसमे थाना प्रभारी सहित 8 पुलिस कर्मी घायल हुये है। यह घटना दतिया मुख्यालय से 70 किलोमीटर दूर बसई क्षेत्र की है। जहां बसई पुलिस अवैध शराब पकड़ने के लिए कार्यवाही करने पहुँची थी, तो शराब माफियाओं ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर हमला कर दिया। बसई क्षेत्र से
बेखौफ शराब माफियाओं द्वारा पुलिस पार्टी पर फायरिंग की बड़ी घटना सामने आई है। यह घटना उत्तरप्रदेश-मध्यप्रदेश की सीमा से सटे ग्राम ग्वावली में शराब माफियाओं द्वारा अंजाम दिया गया। फायरिंग की सूचना पर दतिया मुख्यालय से भारी संख्या में पुलिस बल बसई पहुच गया है।

जानकारी के अनुसार बसई पुलिस को मुखबिर जरिये अवैध शराब की सूचना मिली थी, जिस पर बसई थाना प्रभारी अमित साहू पुलिस बल के साथ अवैध शराब पकड़ने ग्राम ग्वावली में जा पहुचे ओर बसई के हिस्ट्रीशीटर रविन्द्र पूरी ने शराब माफियाओं के साथ पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया। हिस्ट्रीशीटर रविन्द्र पुरी पर उप्र एवं मध्यप्रदेश के पुलिस थानों में दस अधिक मामले दर्ज है। हमले में बसई थाना प्रभारी अमित साहू सहित हेड कॉन्स्टेबल, 8 पुलिस कर्मी घायल हुये है। पुलिस पार्टी अपनी जान बचाने के पीछे लौटना पड़ा। पुलिस पार्टी पर फायरिंग करने वाले शराब माफियाओं को पडकने दतिया पुलिस द्वारा दविश दी जा रही है।

समाचार लिखे जाने तक प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम लखनुपर में शराब पकड़ने गई बसई पुलिस का ग्रामीणों से विवाद हो गया। विवाद इतना बड़ा कि थाना प्रभारी अमित साहू सहित सात पुलिस कर्मी घायल हो गए। वहीं सरपंच पति के भाई बलराम पुरी को भी गोली लगी। विवाद के दौरान ग्रामीणों ने पुलिस को बंधक बना लिया था बाद में बबीना पुलिस ने पहुंचकर दतिया पुलिस को मुक्त कराया।

ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने अंधाधुंध फायरिंग की, इस दौरान सरपंच पति के भाई को गोली लगी। वहीं एसपी मयंक अवस्थी का कहना है कि पुलिस ने सरपंच पति को जैसे ही शराब बेचने के आरोप में हिरासत में लिया, ग्रामीणों ने पुलिस पर हमला कर रायफलें छीनने का प्रयास किया। हमले में पुलिसकर्मी भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। ग्रामीणों ने पुलिस पर पैसों की मांग करने एवं झूठे केस में फंसाने का भी आरोप लगाया।

बता दें कि यह वही थाना प्रभारी अमित साहू है, जिसका कुछ दिन पहले चिरूला थाना क्षेत्र के झांसी हाईवे के पास लकी ढावा पर शराब पकड़ने को लेकर सरपंच रामसहाय यादव व उनके परिजनों के साथ विवाद हुआ था। जिसमें सब इंस्पेक्टर व सरपंच घायल हुए थे। जिसके बाद सरपंच व उनके परिजनों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया था। सात दिन पहले ही एसपी मयंक अवस्थी द्वारा सब इंस्पेक्टर साहू को बसई थाने की कमान सौंपी गई थी।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com