मध्य प्रदेश

Gwalior Trader Murder: नींद की गोलियां देकर पत्नी ने दबोच लिए थे पैर, प्रेमी ने घोंटा गला

ग्वालियर( ब्यूरो)। 48 घंटे की पड़ताल के बाद पुलिस ने सनसनीखेज हेमंत जैन हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने व्यापारी की हत्या में पत्नी प्रीति जैन, प्रेमी मृदुल गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया है। वारदात में मृदुल के दोस्त आदेश जैन की भी भूमिका की पड़ताल की जा रही है। आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

बता दें कि जयेंद्रगंज में पॉश शांति मोहन रेजीडेंसी के दूसरी मंजिल स्थित फ्लैट नंबर 208 में साड़ी कारोबारी हेमंत जैन की रविवार दोपहर हत्या की गई थी। जिसे पत्नी ने पहले एक्सीडेंट का रूप देने की कोशिश की थी। एएसपी सतेंद्र सिंह तोमर के अनुसार पत्नी प्रीति ने पूछताछ में कबूल किया है कि पति की हत्या करने उसने पति के पैर पकड़े और मृदुल ने उसका गला दबाया।

हेमंत जैन द्वारा प्रतिरोध करने के दौरान उसका सिर व मुंह टेबल से कई बार टकराया। हत्या कर प्रेमी फ्लैट से निकल गया, इसके बाद प्रीति पड़ोसियों को मदद के लिए बुलाने गई। प्रीती और मृदुल के बीच करीब एक साल से संबंध थे। इसके कारण प्रीति और उसके पति हेमंत में आये दिन विवाद होता रहता था। इधर मृदुल ने बताया है कि हेमंत के प्रतिरोध करने पर उसने कड़े से प्रहार किये। बेड से उठाकर उसे सोफे पर लिटाया और खून साफ कर दिया। आरोपितों ने गद्दा भी पलट दिया।

हेमंत की पत्नी प्रीति इस कदर मृदुल से संबंध में पागल थी कि वह अपने पति को हरहाल में रास्ते से हटाना चाहती थी। इसलिए वह पति को पिछले तीन-चार दिन से रोज नींद की गोली दे रही थी। उसे अचेत करने के लिए रविवार को नींद की अधिक गोलियां दीं, जिसके नशे में हेमंत हत्या के दौरान संघर्ष ही नहीं कर पाया।

ऐसे पुलिस जांच में घिरती गई प्रीति

-हत्या के बाद उनकी पत्नी प्रीति जैन ने रविवार दोपहर साढ़े तीन बजे के करीब ऊपर फ्लैट में रहने वाली मीनाक्षी माहेश्वरी के पास जाकर बताया था कि उसके पति का एक्सीडेंट हो गया है।

-सीसीटीवी फुटेज से साफ हुआ कि हत्या के तुरंत बाद दो युवक फ्लैट से बाहर जाते हुए दिखाई दे रहे हैं।

-प्रीति ने पड़ोसियों व पुलिस को बताया कि पति ने डोर बेल बजाई। दरवाजा खोलते ही हेमंत ने मेरे ऊपर गिरते हुए बताया कि उसका एक्सीडेंट हो गया। जबकि जीने व दरवाजे पर खून का एक छींटा तक नहीं था।

-पीएम से पहले शव का निरीक्षण करने पर पता चला कि हेमंत आधा पेंट पहने हुए था और खून अंडरगारमेंट पर था लेकिन पेंट पर नहीं। इससे साफ है कि पेंट हत्या के बाद पहनाने की कोशिश की है।

मेरा सबकुछ ले लो… बस, मेरे मृदुल को बचा लो

प्रीति को रात में महिला थाने में रख गया। रात को अचानक फूट-फूटकर रोकर कहने लगी मुझसे बहुत बड़ी गलती हो गई। मेरा सब कुछ ले लो केवल मेरे मृदुल को बचा लो। मैं अब बच्चों व मृदुल के साथ रहना चाहती हूं। पुलिस पूछताछ में निकलकर आया है कि प्रीति व मृदुल के बीच चल रहे प्रेम प्रसंग का पता हेमंत के साथ मृदुल के परिवार के लोगों को भी था। मृदुल के साथ जाने के लिए पति व दोनों बच्चों को छोड़ने को भी तैयार थी

17 साल पहले प्रीति व हेमंत का प्यार ऐसे परवान चढ़ा

खिड़की मोहल्ला(गंज) में हेमंत के बड़े भाई भागचंद्र जैन रहते थे। भाई के घर के सामने प्रीति जैन (शुक्ला) का परिवार रहता था। 18 साल पहले दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे। दोनों परिवारों की इच्छा के विरुद्ध हेमंत व प्रीति ने प्रेम विवाह किया। बेटी के प्रेम विवाह से खफा होकर पिता ने खिड़की मोहल्ले का मकान बेच दिया और गोसपुरा में शिफ्ट हो गए। प्रीति के भाई ने कुछ समय तक हेमंत के साथ साड़ी का काम किया, उसके बाद वह कानपुर शिफ्ट हो गया।

मृदुल वकील की उंगली पकड़कर थाने पहुंचा

सुमावली निवासी आदेश जैन का नाम व्यापारी की हत्या में आने पर वह रविवार को ही आधी रात में भाई के साथ थाने पहुंच गया था। सोमवार शाम को मृदुल निवासी दानाओली भी वकील की उंगली पकड़कर थाने आ गया। पुलिस ने मृदुल से देर रात तक पूछताछ की। पुलिस की थोड़ी सख्ती के बाद ही वह टूट गया और जुर्म कुबूल कर लिया।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com