देश

भिण्ड-*जिले के सभी 1480 मतदान केन्द्रों पर मतदान आज प्रात 7 बजे से तदान की सभी तैयारी पूरी, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम*

*जिले के सभी 1480 मतदान केन्द्रों पर मतदान आज प्रात 7 बजे से तदान की सभी तैयारी पूरी, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम*

आपका मत आपका अधिकार है
*12 लाख 16 हजार 717 मतदाता करेंगे मतदान 18 अभ्यर्थियों के भाग्य का होगा फैसला*
*कैमरे की निगरानी में रहेंगे कई मतदान केन्द्र*
*स्वतंत्र, निष्पक्ष चुनाव हेतु जिला प्रशासन मुस्तैद*
भिण्ड /जिले में रविवार 12 मई 2019 को स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी मतदान सुनिश्चित कराने के लिए सभी जरूरी व्यवस्थाएं और तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस दिन जिले के 1480 मतदान केन्द्रों में 12 लाख 16 हजार 717 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर भिण्ड संसदीय क्षेत्र से लोकसभा का चुनाव लड़ रहे 18 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। मतदान प्रातः 7 बजे से शाम 6 बजे तक होगा। मतदान शुरू होने के एक घंटे पहले अर्थात् प्रातः 6 बजे सभी मतदान केन्द्रों में मॉकपोल (दिखावटी मतदान) किया जाएगा।
स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान संपन्न कराने के लिए जिले भर में सुरक्षा के कड़े और पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। स्थानीय पुलिस बल के साथ-साथ राज्य के बाहर से आई सशस्त्र बलों की तैनाती की गई है। लोकसभा चुनाव के इस महायज्ञ को संपन्न कराने के लिए सभी स्तरों को मिलाकर करीब 12 हजार मतदान कर्मी पूरे संकल्प के साथ निष्पक्ष मतदान कराने में अपनी सहभागिता निभाएंगे।
जिले में 1216717 मतदाता
जिले में कुल 12 लाख 16 हजार 717 मतदाता हैं। इनमें 6 लाख 61 हजार 326 पुरूष और 5 लाख 43 हजार 612 महिला मतदाता शामिल हैं। जबकि मतदाताओं की कुल संख्या में 22 थर्ड जेंडर के एवं जिले में 11757 सेवा मतदाता भी शामिल हैं।
मतदान की अपील
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर डॉ जे विजय कुमार ने जिले के सभी मतदाताओं से 12 मई 2019 को निडर एवं निर्भीक होकर मतदान करने की अपील की है। कलेक्टर ने दिव्यांग, युवा और नए मतदाताओं के साथ-साथ महिला मतदाताओं से खासतौर पर आग्रह किया है कि वे स्वस्थ और मजबूत लोकतंत्र के लिए अपने मताधिकार का इस्तेमाल अवश्य करें।
सार्वजनिक अवकाश
मतदान दिवस 12 मई 2019 को जिले भर में सार्वजनिक अवकाश घोषित किया गया है। ताकि इस दिन सभी शासकीय कार्यालयों, निजी संस्थानों, कारखानों में कार्यरत अधिकारी, कर्मचारी एवं श्रमिक अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें।
सवैतनिक अवकाश
कारोबार व्यवसाय, औद्योगिक उपक्रम या किसी अन्य स्थापना में नियोजित प्रत्येक व्यक्ति को चाहे वो दैनिक मजदूर हो या आकस्मिक श्रेणी का हो उसे मतदान करने का अधिकार है और उसे मतदान के दिन सवैतनिक अवकाश दिया जाना आवश्यक है। यदि किसी नियोजक द्वारा इस प्रावधान का उल्लंघन किया जाता है तो उस पर 500 रूपए तक का जुर्माना किया जा सकेगा तथा उसके विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत भी दण्डात्मक कार्यवाही की जाएगी। जिसमें एक माह तक के कारावास अथवा जुर्माने या दोनों से ही दण्डित किया जा सकेगा।
मतदान के लिए वैकल्पिक दस्तावेज
मतदान केंद्रों पर मतदान के समय मतदाता की पहचान के लिए फोटो मतदाता पर्ची को स्टैंड-अलोन पहचान दस्तावेज के रूप में स्वीकार नहीं किया जाएगा। मतदाता को वोट डालने के लिए मतदान केन्द्र पर मतदाता पर्ची के साथ फोटो मतदाता परिचय पत्र प्रस्तुत करना होगा। मतदाता परिचय पत्र अर्थात वोटर आईडी न होने की स्थिति में मतदाता 12 वैकल्पिक फोटो पहचान दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज प्रस्तुत कर मतदान कर सकेगा। इनमें पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंन्स, राज्य/केंद्र सरकार के लोक उपक्रम या पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किए गए फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र, बैंकों/डाकघरों द्वारा जारी की गई फोटोयुक्त पासबुक, पैनकार्ड, एनपीआर के अंतर्गत आरजीआई द्वारा जारी किए गए स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अंतर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, सांसदों, विधायक या विधान परिषद सदस्यों को जारी किए गए सरकारी पहचान पत्र एवं आधार कार्ड वैकल्पिक दस्तावेज के रूप में मान्य किए जाएंगें।

RB News india
Editor in chief - LS.TOMAR Mob- +919926261372 ,,,,,. CO-Editor - Mukesh bhadouriya Mob - +918109430445
http://rbnewsindiagroup.com