भिण्ड मध्य प्रदेश

प्रसव पीड़ा से परेसान महिला को डॉक्टरों ने नही दिया कोई सहारा जिला अस्पताल भिण्ड में डॉक्टर की ऐसी करतूत आई सामने

भिंड ।जिला अस्पताल कैंपस में प्रसव, के पास से गुजरी महिला डॉक्टर ने नहीं की सुनवाई ।

जब जननी एक्सप्रेस नहीं पहुंची तो ट्रेन से लेकर आए परिजन ऑटो में बैठने के दौरान बिगड़ी हालत

भिंड – कायाकल्प अभियान में तीन बार प्रदेश में नंबर वन आ चुके जिला अस्पताल के डॉक्टरों की संवेदनशीलता शुक्रवार को उस समय सामने आई जब अस्पताल परिसर में ही एक महिला को प्रसव हो गया और महिला डॉक्टर सामने से गुजर गई उन्होंने पलट कर भी नहीं देखा। मदद की जरूरत शायद इसलिए नहीं समझी क्योंकि उनकी ड्यूटी के साथ संवेदनशीलता भी खत्म हो चुकी है। घटना करीब शुक्रवार शाम 7:30 बजे की है अटेर क्षेत्र के जारी गांव की निवासी ममता बाल्मीकि 25 वर्ष अपने पति कमलेश बाल्मिक को शुक्रवार दोपहर 3:30 बजे प्रसव पीड़ा हुई तो जननी एक्सप्रेस को कॉल किया गया लेकिन वह नहीं पहुंची ऐसे में परिजन प्रसूता को गांव से ट्रेन मैं लेकर जिला अस्पताल की ओर रवाना हो गए स्टेशन पर उतरने के बाद ऑटो से जिला अस्पताल पहुंची रास्ता जर्जर होने के कारण प्रसव पीड़ा बढ़ गई ममता को जिला अस्पताल परिसर कैंपस में ही प्रसव हो गया इस दौरान साथ आया उसका पति मदद के लिए तीन बार डॉक्टरों की ओर दौड़ा लेकिन उसकी फरियाद किसी ने नहीं सुनी इसी बीच में डॉ रंजना चौधरी उधर से मोबाइल पर कॉल करती हुई गुजरी गुहार लगाने पर भी उन्होंने अनसुनी कर दी करीब 10 कदम चलने के बाद रुकी और देखा तथा घर की ओर रवाना हो गई करीब 45 मिनट बाद मौके पर मौजूद लोगों के कहने पर डॉक्टर के के गुप्ता ने नर्सिंग स्टाफ को तत्काल भेजा प्रसूता को वार्ड में भर्ती कराया अब जच्चा और बच्चा दोनों सुरक्षित हैं

जिला चिकित्सालय प्रांगण में फर्श पर पड़ी और महिला जहां उसने एक बच्ची को जन्म दिया

प्रांगण में घूम रही महिलाओं ने छात्रा लगाकर किया प्रसूता को सुरक्षित

आनन-फानन में पहुंचा जिला चिकित्सालय का स्टाफ नर्स

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com