आस्था देश भिण्ड मध्य प्रदेश

मानहड़-जीव श्रृष्टी की उत्पत्ति का आधार मात तत्व ही है

जीव श्रृष्टी की उत्पत्ति का आधार मात तत्व ही है

मानहड़-कथा बाचन करते प•बासुदेव शास्त्री (लालपुरा बाले)

पत्रकार मुकेश भदौरिया
गोरमी -संसार मे जीव श्रृष्टी की उत्पत्ति मातृ तत्व से ही होती है,यह बात आज मानहड़ गॉव के भुमियॉ बाबा मन्दिर पर चल रही श्रीमद देवीभागवत कथा के दूसरे दिन देवी मॉ मंशापूर्णा की महिमा का बखान करते हुए कथा व्यास श्री प•बासुदेव शास्त्री (लाल पुरा बाले)ने कही,
श्री शास्त्री ने बताया की संसार के चर अचर मे मॉ का आत्म तत्व व्याप्त है,इस संसार को उत्पन्न करने बाली, भरण पोषण करने बाली मॉ हैं,संसार उत्पत्ति से पहले भी यह देवीय तत्व जल रूप मे व्याप्त था,समय अन्तराल मे इसी मातृ तत्व ने औरत का रूप धारण किया, फिर इसी ने ब्रम्हा ,बिष्णु और महेश की उत्पत्ति की,
अत:हम ह
सबको सदैव दैवी मॉ की ही भक्ति करनी चाहिए, उसके प्रति समर्णपनका भाव ऱखना चाहिए
हम यदि अपने जीवन में सुख और शान्ति चाहते है,तो हमे मॉ के प्रति अपनी श्रद्धा रखनी चाहिए, और जब भी समय मिले उस समय को मॉ की भक्ति मे लगाना चाहिएआज की इस कथा का आनंद पारिक्षत अभिनेद्र सिंह भदौरिया,महान्त मुनीम बाबा के साथ
सरपंच आनंदकुमार सिह, सतेन्द्र सिहं(लवली),मुकेश सिंह, ,कमल सिहं,राजपाल सिहं,छोटे सिहं,राजू रंगीला सहित सैकड़ो भक्तजनो ने लिया

RB News india
Editor in chief - LS.TOMAR Mob- +919926261372 ,,,,,. CO-Editor - Mukesh bhadouriya Mob - +918109430445
http://rbnewsindiagroup.com