दतिया मध्य प्रदेश

श्रीमती कियावत ने प्राचार्यो से पूछा कि आप अच्छा रिजल्ट लाने के लिए चिंतन क्यों नहीं करते 


दतिया – आपकों अपने स्कूल का रिजल्ट देखकर दुःख नही होता अपने घर के बच्चों को तो ध्यान देकर पढ़ाते हो, फिर स्कूल के बच्चों को ध्यान देकर क्यों नहीं पढ़ाते हो, अपने स्कूल का अच्छा रिजल्ट लाने के लिए चिंतन क्यों नहीं करते हो। यह सवाल आज यहां जिले के हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों के प्राचार्यो की बैठक लेते हुए कतिपय स्कूलों के असंतोषप्रद रिजल्ट पर नाराजगी जताते हुए आयुक्त लोक शिक्षण एवं जिले की प्रभारी सचिव श्रीमती जयश्री कियावत ने प्राचार्यो से किया। उन्होंने दतिया के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के असंतोषजनक रिजल्ट पर स्कूल के प्राचार्य के निलंबन के निर्देश दिए। जबकि शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भाण्डेर के प्राचार्य को बदलने के निर्देश दिए।  कलेक्टर श्री बीएस जामोद ने जिले के शैक्षणिक गतिविधियों की स्थिति से प्रभारी सचिव को अवगत कराया।
श्रीमती कियावत ने प्राचार्यो से साफ शब्दों में कहा कि मैं शिक्षण व्यवस्था की बड़ी गहराई से मॉनीटरिंग करूगी। इसलिए आप सर्तक होकर काम करें, आप स्वयं भी बच्चों को पढ़ाए और अपने विद्यालय के अधीनस्थ शिक्षकों से मेहनत से शिक्षण कार्य करवाएं। उन्होंने कहा कि प्राचार्यो को चाहिए कि वे शिक्षकों को मोटीवेट करें और बच्चों की पढ़ाई पर पूरा ध्यान केन्द्रित करें। उन्होने प्राचार्यो से कहा कि आप चाहें तो सब कुछ हो सकता है। स्कूल का शत प्रतिशत रिजल्ट आ सकता है। उन्होंने कहा कि बच्चों को सुबह-शाम पढ़ाओं किन्तु  रजिल्ट अच्छा लाओ। उन्होंने साफ किया शिक्षा में किसी भी प्रकार समझौता नहीं होगा।
श्रीमती कियावत ने प्राचार्यो से कहा कि अगर बच्चें स्कूल नहीं आते तो उनके माता-पिता को इसके बारे में जानकारी दें। बच्चों के साथ प्यार से पेंश आएं। शिक्षण कार्य के लिए जिन अतिथि शिक्षकों को रखा जाएं, उन्हें पर्याप्त प्रशिक्षण दिलवाएं और उनसे उसी विषय में पढ़वाया जाए जिसके लिए वह रखे गए हैं। श्रीमती कियावत ने प्राचार्यो को निर्देश दिए कि रोजाना जितने बच्चे स्कूल आते हैं प्रतिदिन उसकी जानकारी संचालनालय को भिजवाएं, प्राचार्य मुख्यालयों पर निवास करें। उन्होंने कहा कि जबतक आपके अंदर दर्द नहीं होगा, तब तक आप अच्छा कार्य नही कर पाएंगे, इसलिए बच्चों के प्रति संवेदनशील रहते हुए उन्हें बडी मेहनत से पढाए, जिससे अच्छा रिजल्ट आएं। श्रीमती कियावत ने अच्छा रिजल्ट ना ला पाने वाले स्कूलों के प्राचार्यो को कारण बताओं नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। श्रीमती कियावत ने कहा कि लोक शिक्षण विभाग द्वारा जिला मुख्यालय से लेकर विकासखंड मुख्यालयों पर लड़कियों को होमगार्ड के माध्यम से फिजीकल ट्रेनिंग दिलवाने की शुरूआत की जाएंगी, ताकि वे पुलिस एवं वन विभाग की परीक्षा दे सकें। उन लड़कियों को इंगलिश एवं गणित की शिक्षा भी दिलवाई जाएगी।
बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री भगवान सिंह जाटव, संयुक्त संचालक लोक शिक्षण ग्वालियर एवं जिला शिक्षा अधिकारी मौजूद थे।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com