गोहद ग्वालियर भिण्ड मध्य प्रदेश

ग्वालियर में क्रैश हुआ वायुसेना का मिग 21, दोनों पायलट सुरक्षित निकले

कुलदीप सिंह
25 सितंबर, 2019 को
मध्य प्रदेश प्रदेश के गवालियर में आज एक बड़ा हादसा हो गया है। यहां भारतीय वायु सेना का एक मिग 21 विमान हो गया। राहत की बात ये है कि विमान में सवार दोनों स्थानीय सुरक्षित रूप से बाहर निकलने में सफल रहे हैं। बता दें कि विमान उड़ाने वाले पायलटों में ग्रुप कैपटन और शक्वर्डार्डन लीडर शामिल हैं।

समाचर एजेंसी एएनआई के मुताबिक मिग 21 को ग्रुप कैप्टन और एक स्कैटर लीडर उड़ा रहे थे। वर्तमान में सुरक्षित हैं। सेना ने कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दे दिया है।
बता दें कि बुधवार सुबह ग्वालियर एयरबेस से उड़ान भरने के बाद मिग -21 ट्रेनर विमान पास के ही एक मैदान में सुबह करीब 10 बजे उड़ान भरी गई। कर्नल रैंक के एक अधिकारी को इस हादसे की जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इस हादसे में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है

भिण्ड। चंबल में उस समय अफरा तफरी मच गई।जब बुधवार की सुबह एक बड़ा हादसा हो गया है। यह हादसा भिंड जिले के गोहद के आरोली गांव के चौधरीपुरा में हुआ,जहां सेना का एक मिग-21 क्रैश हो गया है। बताया जा रहा है कि इस मिग-21 में सेना के दो पायलट भी थे। जिन्होंने मिग 21 के कुंदकर अपनी जान बचाई। फिलहाल दोनों पायलट सुरक्षित बताए जा रहे हैं
हादसा किस कारण से हुआ फिलहाल अभी इसकी खुलासा नहीं हुआ है। ग्रामीणों ने बताया कि यह हादसा सुबह करीब 10 बजे हुआ है। सूत्रों ने बताया कि ग्वालियर जिले के महाराजपुरा में भारतीय वायु सेना का एयरबेस है जहां से मिग-21 ने उड़ान भरी थी। हादसे की जानकारी मिलते ही सेना का हेलीकॉप्टर और भारी संख्या में पुलिस व प्रशासन मौके पर पहुंच चुके है और यह मिग 21 कैसे क्रैश हुआ इसकी जानकारी जुटाई जा रही है।

दोनों ने कूदकर बचाई जान
इस मिग 21 में सवार दोनों पायलटों ने कूद कर अपनी जान बचाई। हालांकि दोनों अभी खतरे से बाहर बताए जा रहे है। फिलाहल पुलिस और प्रशासन मौके पर पहुंच चुके है। बताया जा रहा है कि दोनों पायलट ट्रेनी थे और अभ्यास के लिए उड़ान भरी थी। पायलटों ने कूद कर अपनी जान बचाई। बताया जा रहा है कि मिग-21 पानी में गिरा है। दोनों पायलटों में एक ग्रुप कैप्टन है जबकि एक स्वाइडन लीडर था।

mig 21 crash today
खेत में पड़ा मलबा
क्रैश होने वाला सेना का मेघ 21 लड़ाकू विमान था जो ग्वालियर की ओर जा रहा था। विमान में दो पायलट सवार थे, दुर्घटना स्थल के लगभग 2 किलोमीटर पहले पायलटों को आभास हुआ कि विमान के का इंजन सही तरीके से काम नहीं कर रहा है और ऐसा होने पर उन्होंने विमान को जैसे-तैसे गांव की आबादी से अलग निर्जन में ले जाकर उतारने की कोशिश की, लेकिन वह क्रैश हो गया। हालांकि इसके पहले दोनों पायलट उसमें से सुरक्षित कूदकर अपनी जान बचाने में कामयाब हो गए।

घटना की जानकारी मिलने के बाद ग्वालियर से सेना के अधिकारी हेलीकॉप्टर लेकर घटनास्थल पर पहुंच गए और दोनों घायलों को लेकर चले गए घटनास्थल पर धान के एक बंजर खेत में क्रैश हुए विमान का मलबा पड़ा हुआ है। विमान के तीन टुकड़े होना बताए गए हैं और वहां एक बहुत गहरा गड्ढा हो गया है। विमान के मलबे को सुरक्षा के लिए पुलिस और सेना के जवान तैनात कर दिए गए हैं सेना के अधिकारी अभी घटना की जांच कर रहे हैं।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com