दतिया मध्य प्रदेश

मजिस्ट्रेट ने शहर में जब लगाई मोवाइल कोर्ट, स्कूली वाहन चालकों में मचा हड़कम्प


शहर में संचालित मजिस्ट्रेट चेकिंग में 25 वाहन जप्त, 50 हजार का जुर्माना
————————————-
दतिया। दतिया शहर में बुधवार की सुबह हल्की गुलाबी सर्दी के बीच हाईकोर्ट के निर्देश पर जिला न्यायालय के मार्गदर्शन में दतिया के मजिस्ट्रेट ने दतिया की सड़कों पर उतरकर मोबाइल कोर्ट लगाते हुये मजिस्ट्रेट चेकिंग की गई। मजिस्ट्रेट चेकिंग होते देख सुबह-सुबह स्कूली बच्चों को छोड़ने जा रहे स्कूली वाहन चालकों के होश उड़ गए।

मजिस्ट्रेट चेकिंग के दौरान अलग अलग जगहों पर वाहनों को चैक किया गया। जिसके चलते बुधवार की सुबह मजिस्ट्रेट चेकिंग के दौरान करीबन 25 वाहन जप्त किए गए और इनके चालान काटते हुए लगभग पचास हजार का जुर्माना वसूल किया गया।

प्राप्त जानकारी के मताबिक बुधवार की सुबह 7:00 बजे के लगभग झांसी ग्वालियर हाईवे चुंगी पुल के नीचे मजिस्ट्रेट सुरेश वांगरे के साथ सिविल जज दीक्षा दोदरे, रिचा गोयल ने मोबाइल कोर्ट लगाते हुए मजिस्ट्रेट चेकिंग की। चेकिंग के दौरान जजों के साथ यातायात पुलिस के सब इंस्पेक्टर होतम सिंह बघेल मौजूद रहे।

चेकिंग के दौरान सड़कों से निकल रहे छात्रों से ठसाठस भरी स्कूली वाहनों को रोककर बारीकी से वाहनों की जानकारी ली गई ओर उनके दस्तावेज जांच किए गए। इसके दौरान सामने आया कि कई स्कूली वाहनों के पास आरटीओ से संबंधित दस्तावेज ही नहीं थे यानी कि यह अवैध रूप से धड़ल्ले से छात्रों को बैठा कर चल रहे थे। वहीं स्कूली वाहनों में छात्रों की सुरक्षा के कोई इंतजामात नही थे। वहीं दूसरी ओर मजिस्ट्रेट चेकिंग का मोर्चा संभाले मजिस्ट्रेट रोहित सिंह राजगढ़ चौराहे पर मोबाइल कोर्ट लगाते हुए चेकिंग की गई।

इनके साथ लोक अभियोजन अधिकारी जितेन्द्र द्विवेदी, यातायात थाना प्रभारी नरेंद्र सिंह परिहार साथ रहे। चेकिंग के दौरान राजगढ़ चौराहे से निकल रहे स्कूली वाहनों को रोककर चेक किया गया और उनकी बारीकी से फिटनेस, दस्तावेज जानकारी ली गई।

कुल मिलाकर बुधवार की सुबह मजिस्ट्रेट रोहित सिंह के नेतृत्व में की गई मजिस्ट्रेट चेकिंग के दौरान लगभग 25 स्कूली वाहन बे नियम जप्त किए गए और इनका चालान काटते हुए करीबन 50 हजार का जुर्माना वसूल किया गया। सभी स्कूली वाहनों को पकड़ कर कोतवाली परिसर में रखवाया गया है।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में हाईकोर्ट के निर्देश पर नौनिहाल छात्रों को सेफ्टी देने के लिये सुरक्षा की दृष्टि से स्कूल वहानो की चेकिंग की जा रही है तो वही दूसरी ओर चेकिंग के दौरान न्यायाधीशों के सामने आया है कि दतिया में हाई कोर्ट के निर्देश पर जिला न्यायालय के मजिस्ट्रेट अपना काम कर रहे तो दतिया का प्रशासन ओर परिवाहन विभाग जरा भी वाहनों की चेकिंग में गम्भीर नही है। जिसके चलते स्कूली वाहन छात्रों की जान को जोखिम में डालते हुये धड़ल्ले से सड़कों पर दौड़ रहे।

शहर में सुबह के समय मजिस्ट्रेट चेंकिंग होने से वहान चालको में हड़कंप मच गया ओर आधे ज्यादा वहान चालकों ने स्कूल में बच्चे नही छोड़ने नहीं पहुँचे चेकिंग के दौरान दोनों जगहों पर यातायात व पुलिस फोर्स मौजूद रहा।

RB NEWS INDIA
For More Information You Can Contact us Call - +919425715025 For News And Advertising - +919926261372
https://rbnewsindiagroup.com