देश

गोरमी-नही रहे गांव में मुखिया अनाथ हुए गांव

*नही रहे गांव के मुखिया अनाथ हुए गांव*
पत्रकार-मुकेश सिंह भदौरिया
गोरमी-लगता है क्षेत्र की एक भी ग्राम पंचायत के सरपंच अब जीवित नही रहे, सारी की सारी पंचायते अब अनाथ हो गई है,
क्योकि संकट की इस घड़ी में एक भी पंचायत अपना काम नही कर रही है,माननीय मुख्यमंत्री द्वारा प्रदाय 25 हजार को भी खा गए ,जो गांव की स्वच्छता सेनिटाइजर के लिए दिए गए थे,नरेगा ओर शौचालय खाकर पेट नही भरा,जो अब आदमी खा कर भर रहे हो,
आज देश कितनी मुशिवत में है देश का मुखिया हाथ फैलाकर भीख मांग रहा तुम भीख देने की बजाह दान भी खाना चाहते हो,
क्या वोट के समय ही पैसा रोटी-बोटी, ओर बोतल देते हो ,आज इन सवकी जरूरत है रोटी की,सेनिटाइजर की वॉटल की,पैसे की आज दो न
क्या अब तुम जीवित नही हो ,
सैकड़ो लोग आज गांव में दूर शहरों से आ रहे है,उन्हें सेल्फ क्वारनटेन गांव से बाहर शाशकीय विद्यालय एवं समुदायक भवनों में करने की व्यवस्था नही कर सकते ,
मुझे पता है मेरी यह बात कई लोगो को कांटे की तरह चुभेगी, पर यही सच्चाई मेरे भाई इसे स्वीकार करना ही पड़ेगा

RB News india
Editor in chief - LS.TOMAR Mob- +919926261372 ,,,,,. CO-Editor - Mukesh bhadouriya Mob - +918109430445
http://rbnewsindiagroup.com