राजनैतिक राजस्थान

Big breaking-जयपुर को न्यूयॉर्क ओर इटली बना रहा है प्रशासन-लोहटी

जयपुर को न्यूयॉर्क, इटली बना रहा है प्रशासन :- लाहोटी*
*रामगंज का कुआरेंटाइन रामगंज में ही हो – लाहोटी*

*प्रशासनिक लापरवाही के चलते जयपुर कोरोना के सामने बेबस व लाचार:- लाहोटी*

*दिशाहीन प्रशासनिक सोच के चलते रामगंज कम्युनिटी इंफेक्शन की बॉर्डर लाइन पर खड़ा है:- लाहोटी*

*राज्य सरकार के विभागों के आपसी समन्वय के अभाव में देश के संक्रमित शहरों में जयपुर तीसरा नंबर शहर:-लाहोटी*

*पूर्व मेयर व सांगानेर विधायक अशोक लाहोटी* ने आज जारी अपने प्रेस वक्तव्य में तथा *आज मुख्यमंत्री जी की VC मीटिंग के समक्ष भी कहा* कि कोरोना वायरस के प्रति *सरकार की लापरवाही व दिशाहीन दशा के चलते जयपुर शहर को न्यूयॉर्क / इटली बनते देर नहीं लगने की आशंका व्यक्त की है। जयपुर को आग में धकेला जा रहा है। आज जयपुर को बारूद के ढेर पर खड़ा कर दिया है ।*
लाहोटी ने राज्य सरकार के विभागों में आपसी समन्वय में कमी के चलते देश के संक्रमित शहरों में जयपुर को तीसरे नंबर का शहर होने का परिणाम बताया है। मुंबई दिल्ली के पश्चात जयपुर शहर में सर्वाधिक संक्रमित होना प्रशासनिक अदूरदर्शिता ओर दिशाहीन सोच का होना ही इसका प्रमाण है। कोरोना वायरस से जयपुर को संक्रमण से मुक्त कराने मैं जिला प्रशासन पूर्णता विफल रहा है। जिला प्रशासन की अनुभवहीनता का ही परिणाम है की रामगंज कम्युनिटी इन्फेक्शन की बॉर्डर लाइन पर खड़ा है और सरकार उसको रोकने में विफल दिखाई पड़ती है। रामगंज कोरोना जैसे बारूद पर बैठा है जहां अब एक और गलती अथवा प्रयोग भयंकर विस्फोटक रूप ले सकता है। बड़े-बड़े दावे करने वाली सरकार के मंत्री और अधिकारी केवल बयान वीर बने हुए हैं ओर खानापूर्ति में लगे है ठीक इसके विपरीत धरातल पर संक्रमण को रोकने के लिए ना तो सरकार के पास में कोई कारगर योजना है और ना ही कोई रोड मैप है।

*लाहोटी* ने राज्य सरकार से मांग की अगर रामगंज में जिन किसी भी लोगों पर संक्रमित होने का अंदेशा है उनको और उनके परिवार के सैकड़ो लोगो को जब *क्वारंटाइन के लिए शहर के सी स्कीम, मानसरोवर, सीतापुरा, जगतपुरा, अजमेर रोड, बगरू, सांगानेर, आमेर, अचरोल जैसे उन इलाकों मे ले जाया जा रहा है जो आज दिन तक कोविड से बिल्कुल अछूते है*, तो फिर शेष बचे इस शहर में *क्वारंटाइन के नाम पर पूरे शहर को जोखिम में डालना* कहाँ तक न्योचित है?
*जब कि चारदिवारी में खुद पुरानी विधानसभा, पुराना पुलिस मुख्यालय, पुराना नगर निगम सहित जलेब चौक, तथा सेंकडो खाली पड़ी होटलें जैसी तमाम विशाल सुविधाएं है जहाँ एक दौर में शासन सचिवालय सहित रियासत की 32 कचहरियां एक साथ लगा करती थी। जयपुर के परकोटे परिसर में ही 5 से 7 हज़ार लोगों* के लिए बिना किसी समस्या के क्वारंटाइन सेंटर बनाया जा सकता है।
*लाहोटी* ने आशंका व्यक्त की कही परकोटे के लोगो का *बाहरी जयपुर में विस्थापन जयपुर शहर में वैसी ही त्रासदी न ले जैसी त्रासदी इटली में लोम्बारडी के संक्रमितों के विस्थापन से आ गयी थी।* जहाँ पूरा देश क्लस्टर्स को चिन्हित कर उन्हें शेष राज्य अथवा जिले से अलग करने में प्रयासरत है, राज्य सरकार/जिला प्रशासन का यह निर्णय क्लस्टर्स के संक्रमितों के जरिये शेष जिले में सेकेंडरी इन्फेक्शन की ओर कदम तो नही होगा। *लाहोटी* के अनुसार मनोवैज्ञानिक दृष्टि से भी रोगियों, संक्रमितों अथवा संदिग्धों को अपने घर से सुदूर जयपुर में विस्थापित करने की बजाय घर के नज़दीक जानी पहचानी जगह पर रखने उनमें विश्वास का संचार होगा।
*लाहोटी* ने राज्य सरकार/जिला प्रशासन से मांग की सरकार शीघ्र अनुभवी अधिकारियों की टीम की मदद से दूरदर्शी व व्यापक रोडमेप तैयार करे व रामगंज व परकोटे के अन्य संक्रमित रोगियों को परकोटे के भीतर ही क्वारंटाइन सेंटर में आइसोलेट करे। साथ ही कम्युनिटी इंफेक्शन के बॉर्डर पर खड़े रामगंज व परकोटे क्षेत्र को रोकने का प्रयास करे अन्यथा जयपुर शहर की स्थिति अत्यंत विस्फोटक ठीक न्यूयार्क की भांति हो जाएगी ओर आने वाली पीढ़ी ओर समय हमें माफ नही करेगा। *अशोक लाहोटी*
विधायक, सांगानेर
*!सादर प्रकाशनार्थ!*

RB News india
Editor in chief - LS.TOMAR Mob- +919926261372 ,,,,,. CO-Editor - Mukesh bhadouriya Mob - +918109430445
http://rbnewsindiagroup.com