अन्य दतिया मध्य प्रदेश

पूर्व केंद्रीय सूचना आयुक्त शैलेश गांधी ने ट्विटर पर कहा राहुल सिंह हैं सर्वश्रेष्ठ

■ राज्य सूचना आयुक्त राहुल सिंह को जन्मदिन पर बंधाईयों का लगा रहा तांता लोगों ने अब तक के सबसे ऐतिहासिक सूचना आयुक्त के कार्यों की सराहना की, कहा आप के आने बाद लोगों को लोकतंत्र पर विश्वास जगा

■ दतिया व रीवा से RTI दल ने दी राहुल सिंह जी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं

दतिया @RBNewsindia. com>>>>>>>>>> दिनांक 23 जनवरी 2021 को मध्य प्रदेश राज्य सूचना आयुक्त राहुल सिंह के जन्मदिवस पर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक ट्विटर व्हाट्सएप इंस्टाग्राम सभी में उनके शुभचिंतकों की शुभकामनाओं का तांता लग गया। सुबह से ही लोगों ने राहुल सिंह के जन्मदिन पर विभिन्न प्रकार से शुभकामना संदेश देना प्रारंभ किया जिसका राहुल सिंह ने सभी को धन्यवाद देकर रिप्लाई किया।

*पूर्व केंद्रीय सूचना आयुक्त शैलेश गांधी ने ट्विटर पर कहा राहुल सिंह हैं सर्वश्रेष्ठ*

ट्विटर पर सूचना आयुक्त राहुल सिंह को टैग करते हुए पूर्व केंद्रीय सूचना आयुक्त शैलेश गांधी ने अपना शुभकामना संदेश भेजा जिसमें उन्हें अब तक का सर्वश्रेष्ठ सूचना आयुक्त बताया। शैलेश गांधी ने कहा कि राहुल सिंह के निर्णय ऐतिहासिक होते हैं जिससे आमजन को फायदा हो रहा है। राहुल सिंह ने सूचना के अधिकार के क्षेत्र में लोगों को लोकतांत्रिक प्रक्रिया में सहभागी बनाने में अभूतपूर्व योगदान दिया और ऐसे ही पारदर्शिता को बढ़ावा देते रहें और स्वस्थ रहें। श्री गांधी ने आगे कहा कि वह स्वराज जो अब तक हमे प्राप्त नही हो पाया है उसे लाने में राहुल सिंह ऐसे ही तत्पर रहें।  जिसके जबाब में राहुल सिंह ने शैलेश गांधी को धन्यवाद दिया और कहा कि उनके प्रोत्साहन से राहुल सिंह को नई ऊर्जा और शक्ति मिलती है जिससे देश के लोकतंत्र में लोगों का विश्वास बना रहे और वह उसके लिए निरंतर काम करते रहें।

राहुल सिंह के द्वारा किए जा रहे नवाचार जिसमें ऑनलाइन सुनवाई, फेसबुक लाइव, वेबीनार, व्हाट्सएप कॉल, ऑडियो कॉलिंग, वीडियो कॉलिंग आदि के माध्यम से की जा रही सुनवाई की काफी प्रशंसा की गई और उनके लंबे, दीर्घायु और स्वस्थ जीवन की कामना की।

 

*एक नजर राहुल सिंह के अब तक के कुछ ऐतिहासिक निर्णयों पर*

सूचना आयुक्त राहुल सिंह के कार्य आज पूरे देश में चर्चा का विषय हैं जिसका सबसे बड़ा कारण यह है कि राहुल सिंह के निर्णय आम जनता से जुड़े हुए होते हैं और उनके सभी निर्णय आरटीआई कानून को मजबूत बनाने वाले होते हैं।

रीवा के संदर्भ में बात करें तो चाहे रतहरा तालाब बस्ती विस्थापन मामले पर गरीबों के अधिकार के लिए 48 घंटे में आरटीआइ आवेदन की सुनवाई हो अथवा नेवरिया एवं अमवा हरिजन बस्ती में 48 घंटे के भीतर पिछले 73 वर्ष में पहली बार किए गए नलकूप उत्खनन का कार्य हो। यह सब आरटीआई से ही संभव हुआ और वह भी धारा 7(1) के तहत जीवन जीने के अधिकार के तहत 48 घंटे के भीतर सुनवाई के दौरान। निश्चित तौर पर इन सभी मामलों में आवेदन लगाने वाले एक्टिविस्ट शिवानंद द्विवेदी के आरटीआई आवेदन सम्मिलित रहे जिस पर सूचना आयुक्त के पद पर बैठे हुए राहुल सिंह ने ताबड़तोड़ निर्णय दिए और यह दिखा दिया कि सूचना आयुक्त की ताकत कितनी होती है। कराधान घोटाले से संबंधित जानकारी को छुपाने के लिए डीम्ड पीआईओ बनाए गए आधा दर्जन जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों के ऊपर सवा लाख रुपए से अधिक की फाइन लगाकर यह बता दिया की सूचना आयोग की नजर में बड़े से बड़ा मुख्य कार्यपालन अधिकारी और एक छोटे से छोटा कर्मचारी सभी एक हैं। कराधान घोटाले से ही संबंधित जानकारी छुपाए जाने के चलते कमिश्नर कार्यालय रीवा में लोक सूचना अधिकारी एवं डिप्टी कमिश्नर के पद पर पदस्थ हैं के पी पांडे के ऊपर भी 25 हज़ार रुपये का जुर्माना ठोक दिया। इस प्रकार यदि बात करें तो दर्जनों ऐसे निर्णय सूचना आयुक्त राहुल सिंह ने दिए हैं जिससे आरटीआई कानून में एक नया इतिहास रचा गया है। अभी हाल ही में न केवल रीवा जिले बल्कि पूरे मध्यप्रदेश के सेल्समैनों की वर्षों से रुकी हुई पेमेंट के विषय में दिया जा रहा निर्णय एक लैंड मार्क निर्णय होगा जिसमें सभी सेल्समैन की पेमेंट वेबपोर्टल पर प्रतिमाह साझा किए जाने के भी आदेश दिए गए हैं। शायद आने वाले समय में ऐसे पता नहीं कितने ऐतिहासिक निर्णय लिए जाएंगे जिससे आरटीआई कानून की धारा 4 के तहत अधिक से अधिक जानकारी आम पब्लिक को सार्वजनिक किए जाने हेतु आदेशित किया जाएगा जिससे आरटीआई कानून जन जन तक पहुंच पाए और आम जनता लाभान्वित हो। जबकि अभी तक देखा गया है कि आरटीआई कानून की धारा 4 के तहत जो जानकारी इस अधिनियम के अधिनियमन के 120 दिन के भीतर साझा की जानी चाहिए थी अधिकतर विभागों में आज तक साझा नहीं की जा सकी है।

*एक्टिविस्ट शिवानंद द्विवेदी एवं अधिवक्ता नित्यानंद मिश्रा ने भी भेजा शुभकामना संदेश*

ट्विटर और फेसबुक के माध्यम से अपना बधाई और शुभकामना संदेश देते हुए सामाजिक कार्यकर्ता एवं एक्टिविस्ट शिवानंद द्विवेदी एवं जबलपुर उच्च न्यायालय के अधिवक्ता एवं आरटीआई एक्टिविस्ट नित्यानंद मिश्रा ने संस्कृत के श्लोकों के साथ सूचना आयुक्त राहुल सिंह को शतायु होने, अच्छे स्वस्थ जीवन, दीर्घायु बने रहने और सूचना आयोग के क्षेत्र में ऐसे ही ऐतिहासिक निर्णय देते रहने और राष्ट्रसेवा में तत्पर बने रहने के लिए शुभकामना संदेश भेजें हैं।

दतिया जिले के सूचना अधिकार एक्टिविस्ट डॉ. रामजीशरण राय  व उनके साथी बलवीर पाँचाल, अशोक कुमार शाक्य, सरदार सिंह गुर्जर, पीयूष राय, अभय दाँगी, दीक्षा लिटौरिया, सुमिता खरे, प्रीति वर्मा, आयुष राय, शुभम पाल, उदय दाँगी और शुभचिंतकों द्वारा राहुल सिंह को पूरे सोशल मीडिया, फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम सभी में सैकड़ों शुभकामना संदेश भेजे गए।

 

*सोशल मीडिया में क्रांतिकारी सुभाष चंद्र बोस की मनाई गई जयंती*

इस बीच दिनांक 23 जनवरी 2020 को भारत के महान क्रांतिकारी एवं आजाद हिंद फौज के संस्थापक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सुभाष चंद्र बोस की जयंती भी सोशल मीडिया में विभिन्न प्रकार से संदेशों और पोस्टरों के माध्यम से मनाई गई जिसमें देश के विभिन्न कोनों से देशवासियों ने अपने शुभकामना संदेश, पुष्पांजलि और नमन संदेश भेजे और योगदान को याद किया। जिसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अकाउंट होल्डर ने खूब लाइक और शेयर किया। 23 जनवरी को सुभाष चंद्र बोस की जयंती से संबंधित संदेशों का एक ट्रेंड चला जिसमें लोगों ने अपनी भावनात्मक पहलुओं को व्यक्त किया और महान सपूत देशभक्त क्रांतिकारी सुभाष चंद्र बोस के स्वतंत्रता संग्राम और भारत की स्वतंत्रता में उनके अभूतपूर्व योगदान को याद किया।

 

RB News india
Editor in chief - LS.TOMAR Mob- +919926261372 ,,,,,. CO-Editor - Mukesh bhadouriya Mob - +918109430445
http://rbnewsindiagroup.com