अवैध उत्खनन क्राइम दतिया मध्य प्रदेश

अवैध रेत खनन रोकने गए पुलिस उड़नदस्ते व माफियाओं के बीच हुई फायरिंग दो आरक्षक घायल

कन्दरपुरा रेत घाट पर फ्लाइंग स्कॉट और माफिया के बीच हुई फायरिंग, दो आरक्षक घायल

दतिया @RBNewsindia.com>>>>>>>>>>>>>>> जिले के सेवड़ा क्षेत्र की रेत घाट विवाद और फायरिंग का कारण बनती जा रही। जहा कन्दरपुरा रेत घाट पर रेत कम्पनी के फ्लाइंग स्कॉट ओर रेत माफियाओं के बीच जमकर फायरिंग हुई है। जिसमे फ्लाइंग स्कॉट के दो आरक्षक घायल हो गए है। सोमवार रात 12 बजे की घटना है।

सोमवार की रात्रि करीब 12 बजे रेत उत्खनन का खेल इस तरह चला रहा था कि जिसने स्थानीय प्रशासन की पोल खोल दी। कन्दरपुरा घाट स्थित सिंध नदी पर रेत माफिया और कंपनी आमने सामने आ गए। अवैध उत्खनन को लेकर दोनों में जमकर फायरिंग हुई। जिसमें दो आरक्षक गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद ग्वालियर रेफर कर दिया गया।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सोमबार मंगलवार की दरम्यानी रात 11:30 बजे सूचना मिली थी। सिंध नदी के कंदरपुरा घाट पर फायरिंग हो गई। जिसमें दो आरक्षक विशुन राजावत और दीपक प्रजापति को गोली लगी है।

मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को हंड्रेड डायल की मदद से सिविल अस्पताल पहुंचाया। जहां उपचार के बाद दोनो आरक्षकों की गंभीर हालत देखते हुए ग्वालियर रेफर कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि फ्लाइंग स्कोर्ट को भी सूचना मिली थी कि रेत माफियाओं द्वारा अवैध उत्खनन किया जा रहा है। वहां पर फायरिंग हो गयी। अब सेंवढ़ा थाना पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है।


ना कोई खदान और ना किसी का ठेका फिर भी होता है अवैध उत्खनन

वैसे तो कन्दरपुरा नगरीय क्षेत्र में आता है लेकिन सिंध नदी से सटे होने के कारण माफियाओं ने अवैध रूप से रेत का घाट बना दिया है और जिस जगह पर घटना घटी है। वह कंदरपुर क्षेत्र में ही आती है कागजों में भी देखा जाए तो यहां पर कोई भी रेत खदान स्वीकृत नहीं है।

लेकिन प्रशासन की मिलीभगत से दिन और रात यहां पर रेत उत्खनन देखा जा सकता है। वर्तमान में ही केपी सिंह भदोरिया कंस्ट्रक्शन के द्वारा महीनों से लगातार अवैध रेत का उत्खनन किया जा रहा था। जब प्रशासन की नींद नहीं खुली लेकिन जब रेत माफिया और कंपनी आमने-सामने आ गए तो दोनों तरफ से फायरिंग हुई। जिसमें रेत माफियाओं ने फ्लाइंग स्कॉर्ट की टीम में शामिल दो आरक्षक गोली लगने से घायल हो गए। फ्लाइंग स्कोर्ट को भी सूचना मिली थी कि रेत माफियाओं द्वारा अवैध उत्खनन किया जा रहा है । वहां पर फायरिंग हो गयी अब सेंवढ़ा थाना पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है।

पुलिस अधीक्षक का कहना है

इस घटना के सम्बंध में जब पुलिस अधीक्षक अमन सिंह राठौर से चर्चा की गई तो उन्होंने इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि अवैध उत्खनन को रोकने के लिए बनाई गई उड़नदस्ता सर्चिंग पर था। जब यह घटना घटी। जिसमे पुलिस लाइन के दो जवान घायल हुए है। मामले की जाँच कर आरोपियों की तलाश की जा रही है।

पुलिस अधीक्षक अमन सिंह राठौर पहुंचे सेवड़ा, घटना की जानकारी ली

सेवढ़ा अनुभाग के रेत घाट कन्दरपुरा पर रेत माफियाओं व उड़नदस्ता पर हुई फायरिंग की घटना के बाद जिला पुलिस अधीक्षक अमन सिंह राठौर रात को सेवड़ा पहुंचे और सेवड़ा पुलिस से पूरे घटना की जानकारी ली है। जानकारी के मुताबिक एसपी ने टी आई सेवढा को तलब कर सेवढा नगर निरीक्षक राजू रजक से पूरे घटना क्रम के बारे में विस्तृत चर्चा की।

नगर निरीक्षक रजक से चर्चा के बाद आरोपियों की तलाश में जुटने के निर्देश भी दिए। गौरतलब है कि सेवढा नगर रेत माफियाओ का अड्डा बन गया है आये दिन रेत माफियाओ द्वारा उड़नदस्ते टीम पर बिना बेखोफ हमले को अंजाम दिया जा रहा है।

RB News india
Editor in chief - LS.TOMAR Mob- +919926261372 ,,,,,. CO-Editor - Mukesh bhadouriya Mob - +918109430445
http://rbnewsindiagroup.com